Dost

दुनिया मे हर चीज मतलब की अच्छी लगती है,

लेकिन दोस्त बिना मतलब के अच्छे लगते हैँ ll

मेरी कामत के चर्चे

शहर के हर कूचे में थे

मकाँ, हमसे किसी के

ऊँचे ना थे

था ग़ुरूर हमको भी

अपनी ज़रा नावाज़ी का

अंज़ूमन में होते हैं चर्चे

कहना था ख़बरसाजी का

हुआ कुछ यूँ था उस दिन

महफ़िल सजी एक ख़ास थी

अंदर रंगिनिया थी और बाहर

क़यामत-ए-बारिश की रात थी

जुगलबंदी थी क्या ख़ूब

ज़ाम थे खनक रहे

रंग में भंग करने तभी

मनहूस कुत्ते भौंक पड़े

था फ़क़ीर एक, जो

कुछ कुत्ते पालता था

लावारिस ख़ुद था

और रोटी उनको डालता था

भर गया इताब से

त्योरियाँ भी गयी थी चढ़

जहालियत की हद है

इनको क्या आता नहीं समझ

ग़ुस्से में निकला मैं

अंज़ूमन-ए-ख़ास से

सिखाना था इन्हें आज

सबक़ नए अन्दाज़ से

भीगते हुए कुत्ते को

देखकर दौड़ा वो आया

रहा भीगता ख़ुद उसे

अपना कम्बल उढ़ाया

लाठी लेकर मैं खड़ा

शर्म से बेज़ार था

इंसानियत से महरूम

ख़ोखली तहज़ीब का किरदार था

मेरी कामत के चर्चे

शहर के हर कूचे में थे

मकाँ, हमसे किसी के

ऊँचे ना थे

था ग़ुरूर हमको भी

अपनी ज़रा नावाज़ी का

अंज़ूमन में होते हैं चर्चे

कहना था ख़बरसाजी का

हुआ कुछ यूँ था उस दिन

महफ़िल सजी एक ख़ास थी

अंदर रंगिनिया थी और बाहर

क़यामत-ए-बारिश की रात थी

जुगलबंदी थी क्या ख़ूब

ज़ाम थे खनक रहे

रंग में भंग करने तभी

मनहूस कुत्ते भौंक पड़े

था फ़क़ीर एक, जो

कुछ कुत्ते पालता था

लावारिस ख़ुद था

और रोटी उनको डालता था

भर गया इताब से

त्योरियाँ भी गयी थी चढ़

जहालियत की हद है

इनको क्या आता नहीं समझ

ग़ुस्से में निकला मैं

अंज़ूमन-ए-ख़ास से

सिखाना था इन्हें आज

सबक़ नए अन्दाज़ से

भीगते हुए कुत्ते को

देखकर दौड़ा वो आया

रहा भीगता ख़ुद उसे

अपना कम्बल उढ़ाया

लाठी लेकर मैं खड़ा

शर्म से बेज़ार था

इंसानियत से महरूम

ख़ोखली तहज़ीब का किरदार था

Ajeeb sa dar😕

Agar sath tut gaya to

Agar hath chuut gaya to

Agar vo nahin mil paaya

Jise Paane ki chahat ke sapne se

ye kai saal kaate hain

Adhe hain, pure na ban paye to

Kismat ke aage agar haare to

Dar ye ajeeb sa Jane kyu aaj sata raha

Bevajah ye pyaar…ye dil…ye hum …ye tum

Ye Ajeeb sa dar…

Aur bht jyada

Bht bht jyada

pyaar aaj tum par aa raha 💞

Happy reading

Yours loving

Warrior

Dussehra

रावण की मात है, दशहरे की रात है,
पाप पुण्य की बात है, क्या सच में राम कोई साथ है?

Ya kya pata

Har ram mein kahin ek ravan

Aur har ravan mein ek raam hai

Happy belated dussehra 🙏

Keep scribbling nishabd!well said👌

Yours loving warrior

Naina

Tum paas aaye💟

Haq

Haseen🎶

Lamha

Rangeen🎶

Lab

Bejawab🎶

Nazdikhiyaa

Hain khaas 🎶

Sath

Tumse 🎶

Ehsaas

Tumse 🎶

Waqt accha aa jayega

Viswaas tumse🎶

Sath ka waqt khatam hone par bhi

Nazdeekiyaa kam nahi hoti hain🎶

Ehsaas sadgi ka

Asar bas itna…

zindagi muskurati hi rehti h🎶

Khawab aur hakeekat mein

hum farak kar na paye🎶

Shukriya khuda ka

Tum Yun paas aaye🎶

Happy reading readers!

Serving you all a romantic writeup this time💟

Keep spreading love!

Yours loving

Warrior

सोचना पड़ा !

सोचना पड़ा उसे भी, मुझे भी सोचना पड़ा,
सोचना पड़ा उसे उस पिता के लिए जो उम्र की दहलीज पर था,
सोचना पड़ा उस माँ के लिए जिसने उसके लिए कुछ सपने बुने थे,
सोचना पड़ा उस परिवार के लिए जिसकी उम्मीदें थी उससे,
सोचना पड़ा उसके लिए जिसका कर्ज था उस पर, जिसका बोझ बहोत भारी था !
और मुझे ? मुझे उसके लिए सोचना पड़ा !

After a long time…read something so deep…like as a reader I can feel the depth and intensity💬

Warm welcome to our scribbling place Nishabd💟!

And to your writing… I would liketo share my thoughts..

Rishte..maa papa family…

bandhan ka naam hai ? ya uddne wale pankh support aur aazadi ka?

Na jane Soch aur dil kyu band jati h?

Na Jane kyu aansu aur mushkan saath ho jati hain?

Khusi b hoti h

Santushti satisfaction bhi

Adhoori si zindagi hai puri bhi

Well written Mr. new author 💞

Keep scribbling Nishabd🖌

Happy reading readers

Yours loving

WARRIOR🧚‍♀️

Guide to hurt someone with formal most smile🖌

I know you were expecting

Me to say something

Deep

About your behaviour,qualities,deeds

Some appreciation

Or may b my deeply analysed opinion

Is what you wanted to hear

I knew it

And

But

I ended up breaking all your expectations

And said most lame superficial thought about you..with the most formal smile of mine to add to your pain😎

Sorry for being morally inappropriate but these are out of life experiences…can’t help it😓

Happy reading readers!

Yours loving warrior

Naina