Maa


माँ जिसका अर्थ है जिसने हमें बनाया,

प्रकृति हम सभी कि माँ है ,

माँ तुमने ही हम सभी को श्रीजा है ,

सजाया और जीवन दान दिया है ,

बस तुम्ही हो जिसके वजह से हमें माँ का साया मिला है ,

प्यारी सी माँ का एक अनमोल रूप मिला है ,

तुम जीवंदयनी हो माँ ,

माँ तुम न होती तो आज हम न होते ,

यह जिंदगी न होती ये खुसी न होती ,

तुम इस ऊझल सी दुनिया का पहला छहरा हो माँ,

तुम्हारी आंखो से मैंने दुनिया को देखने कि  शुरुआत कि ,

मई तुम जैसी ही हु माँ,

तुमने बस जीवन ही नहीं दिया जीना भी सिखाया ,

पाल पोस  कर  बड़ा  भी  किया बिना किसी शर्त के ,

तुम ये सब कैसे कर लेती हो माँ,

अपना प्रिय से प्रिय चीज़ मुझे दे देना ,

अपनी खुसिया छोर केर मुझे मुसकाना ,

बिना नींद देखे रात भर मेरे साथ जागना ,

मेरे दर्द मे रोना ,

मेरे खुसी मे हसना,

बच्चा बन केआर मेरे साथ खेलना ,

सब कैसे कर लेती हो माँ,

तुम अद्भुद हो माँ ,

अंतर्यामी हो ,

मैंने भगवान तो नहीं देखा पर हाँ इतना जानती हूँ कि जिसने हुमें बनाया वही भगवान है ,

मेरे लिए तो तुम और पापा ही मेरे भगवान हो ,

तुमने डाट कर स्कूल भेजा है तो प्यार से सुलाया भी है माँ ,

जब कोई न होता था तब तुम ही मेरे साथ खेलती थी ,

तुम गुरु और सखा भी हो माँ ,

तुमने ही लिखना पढ़ना और हसना सिखाया ,

आज भी तुम्हारे गोद में सर रख कर सोने आभास ही निराला है ,

एक सुकून  है तूमें जो बस तुमसे ही मिलती है ,

यही कारण है कि घर जाते ही बस तुम्हें ही ढूंढती हूँ माँ ,

तुम सबकी हो माँ ,

पर में सर से लेकर पाओं तक बस तुम्हारी हूँ,

मैं तुम्हारी परछाई बनना चाहती हूँ माँ ,

तभी तो बचपन में तुम्हारी साड़ियाँ पहना करती थी ,

बस तूमें और तुम तक खोना चाहती हूँ ,

दूर नहीं जाना तुमसे पर मजबूरीया भी ऐसी है ,

पर तुम दूर होकर भी साथ हो ,

आज भी चोट लगने पर तुम्ही याद आती हो माँ,

मेरा सारा संसार तुमसे ही है माँ ,

Love u maa

~tinker_shiwi

Nature maa to your maa…your scribble is blissful shiwi.

Keep Scribbling dear

Happy reading readers

Yours loving warrior

Naina

Advertisements

4 thoughts on “Maa

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s