Awareness reached

I am finally here I can feel it I can see it I can hear it I can smell it Hence, my all senses are finally alive Awareness reached I am no more lost I am now found Happy reading readers! Yours loving warrior Naina

लहरें चली गयी

अपना सब कुछ लूटने आयी थी हमपे और हमें फिर भी बिना कुछ दिए चली गयी सारा सागर ले के आयी थी 'उन्ही की तरह' हम पे लूटने और हमें सूखा ही छोड़ कर चली गयी ऐसी लहरो का हम करते भी क्या शिकायत भी कैसे उससे करते  जो अपना सब कुछ ले कर आई … Continue reading लहरें चली गयी

Be the change

गलतिया खुद की ढूंढ न सके क्योंकि हम बहाने बना रहे थे और बचे कुचे वक़्त में गलतियां दुसरो की गिना रहे थे गलतिया खुद की ढूंढ न सके और बाद में जाने क्यों हम पछता रहे थे This morning see the mirror yaar. Lets try and first ourselves be that change which we want … Continue reading Be the change