वक़्त से दौड़।


हर कोई दौड़ रहा है ।

पहले आने की होड़ कर रहा है

कहाँ जाना है ये उसे भी नहीं पता

बस वक़्त से आगे भाग रहा है ।

कोई दौलत बटोर रहा है 

कोई शोहरत सहेज रहा है

आगे आने की होड़ में… 

ना जाने कितनों को कुचल रहा है

ना खुद का होश है ना परिवार की सुध

अपनी अलग दुनिया बुन रहा है

जाना कहा है ये उसे ही नहीं पता

बस आगे जाने की ज़िद कर रहा है

                                              ~virus_miki

Correct miki..

Vaqt ke aage chalne mein hum waqt ke sath chalna bhul rahe hain.

A great read!

Keep scribbling miki

Happy reading readers

Yours loving warrior

Naina


Advertisements

2 thoughts on “वक़्त से दौड़।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s